ज्ञान गंगा की अमोघ चुस्की

कोका कोला सरदर्द की दवाई !!

कुछ ऐसे किस्से और स्टोरियां शायद आपने पहले कभी नहीं सुनी होंगी।हमारे आसपास हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में उन तमाम चीजों का इस्तेमाल करते हैं ,दिन में कई बार उनका नाम सुनते हैं लेकिन क्या कभी आपने सोचा कि ये सब चीजें जो हमारे रोजमर्रा की जिंदगी में अहम किरदार अदा करती हैं इनकी उत्पति कैसे हुई,किसने की,क्यों की….?
X-ray  आपने इसका नाम हॉस्पिटल्स में सुना होगा जब डॉक्टर किसी मरीज को कहता है कि पहले आप X-RAY करवाइए उसके बाद आप का इलाज शुरू होगा X-RAY एक विद्युत चुंबकीय यंत्र है जो डॉक्टर को बॉडी के आंतरिक भागों की जानकारी देता है। एक्स-रे का आविष्कार जर्मनी में विल्हेल्म कानराड रंटजन ने 1895 में किया था दरअसल विल्हेलम केथोडित रेंज ट्यूब बनाना चाह रहे थे इसी दौरान लाइट चमक रही थी तभी उन्होंने देखा अपारदर्शी कवर के बावजूद नीचे रखा पेपर दिखाई दे रहा था और इस प्रकार X-ray का अविष्कार हुआ।
Microwave  जो आज हर घर की किचन में आसानी से देखा जा सकता है। वैज्ञानिक पर्सी स्पेंसर गलती से इसका अविष्कार किया था जी हां पर्सी स्पेंसर एक वैक्यूम यूट्यूब के जरिए रडार से जुड़े रिसर्च कर रहे थे इसके लिए उन्होंने कई  मशीनें भी बनाई थी जो उनके रिसर्च में मदद करती थी इन्हीं एक्सपेरिमेंट करने के दौरान उन्होंने देखा कि उनकी जेब में रखा कैंडीबार का पैकेट पिघल रहा है उसे देख कर वह हैरान हो गए और बाद में उन्होंने पॉपकॉर्न को मशीन के अंदर डाला और पाया कि पॉपकॉर्न फूटने लगे तो बस हो गया माइक्रोवेव का आविष्कार पहले ही माइक्रोवेव साइज में काफी बड़े और कीमती हुआ करते थे।धीरे धीरे इस पर काम किया गया और इन्हें आज हर घर की रसोई में जगह मिल गई।
Peniciline वैज्ञानिक अलेक्जेंडर फ्लेमिंग घाव को भरने वाली एक चमत्कारी दवा बनाना चाहते थे लेकिन बार-बार प्रयास करने के बावजूद वह इस प्रयोग में सफल नहीं हो पा रहे थे एक दिन गुस्से में आकर उन्होंने अपने एक्सपेरिमेंट की सारी चीजें बाहर फेंक दी और कुछ दिन बाद उन्होंने देखा कि कि जहां उन्होंने वह सामान फेंका था वहां के आसपास की जगह के बैक्टीरियााा नष्ट हो रहे हैं तभी से पेनिसिलिन का इस्तेमाल  बैक्टीरिया नष्ट करने में किया जाने लगा।
COCA-COLA जॉन स्टिथ पेंबर्टरन सिर दर्द के इलाज के लिए एक दवा बना रहे थे जिसके लिए उन्होंने कोला नट और कोला की पत्तियों को इस्तेमाल किया और उस के मिश्रण को कार्बोनेटेड वॉटर के साथ मिला दिया बाद में जब उसे टेस्ट किया तो उसका रिजल्ट कोकाकोला के रूप में सामने आया।
Potato chips 1853 में जार्ज नाम के एक सैफ से एक ग्राहक ने फ्रेंच फ्राइज़ थोड़ा पतला करने के लिए कहा जॉर्ज ने उन्हें पतला करके ग्राहक को सर्व किया तो ग्राहक ने फिर कहा कि फ्रेंच फ्राइज और पतली चाहिए। तभी से पटेटो चिप्स का आगमन हुआ।

Leave a comment

Your email address will not be published.