ज्ञान गंगा की अमोघ चुस्की

गांव का सरपंच बना समूचे विश्व के लिए मिसाल

गांव का सरपंच बना विश्व के लिए मिसाल

How a sarpanch become an international icon

आपने एक बात तो  सुनी ही होगी, बेटी के लिए पहला सुपर हीरो और कोई नहीं ,उसके पिता होते  है,जी हाँ
हम बात कर रहे है,एक ऐसे पिता की,जो गाँव का सरपंच भले हो पर सबसे पहले एक मासूम बच्ची का पिता है,
हम बात कर रहे हैं हरियाणा जैसे राज्य की, जहाँ बेटीयो को पहले  अछूत समझा जाता था पर अब जमाना बदल गया है लोग बदल रहे हैं सोच बदल रही,
और इसी का जीता जागता उदाहरण हरियाणा के बीबीपुर गांव  के सरपंच सुनील जागलान और उनकी बेटी नंदिनी ।Selfie-with-Daughter-gyanchuski

यह  वहीं सुनील जागलान है जिन्होंने 9 जून 2015 को #selfie with daughter  का शुभारंभ किया आइए जानते हैं पूरी कहानी …

सलमान खान के गाने  ने बदली जिंदगी

जी हां सच कह रहे हैं वर्ष 2012 में सुनील और उनकी पत्नी को 30 साल की उम्र में लड़की हुई, सुनील जागलान बहुत खुश थे अपनी बेटी के जन्म पर,
उन्होंने इसी खुशी में हॉस्पिटल के पूरे स्टाफ को मिठाइयां बांटी, खुश होकर इनाम दिए पर  वहां की नर्सों ने इनाम लेने से मना किया क्योंकि वह खुश नहीं थी क्योंकि लड़की हुई थी  ,वजह साफ थी लड़की का जन्म ।
यही बात सुनील जागलान को लग गई सरपंच बनते ही फैसला किया, कि वह अपनी बेटी के सम्मान के लिए जरूर कुछ करेंगे, ऐसे ही कारवाँ चलता रहा,
एक दिन जब वह बच्ची 2 साल की हो चुकी थी तब उस समय टीवी पर सलमान खान की फिल्म” बजरंगी भाईजान ” का गाना सेल्फी ले ले रे चल रहा था , और तब पहली बार अपनी बेटी नंदिनी के साथ सेल्फी ली और लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए अपने व्हाट्सएप नंबर पर # selfie with daughter  जैसे कैंपेन की शुरुआत हुई, धीरे धीरे इस कैंपेन की गूँज प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी  के कानों तक गई और उन्होंने अपने शो मन की बात में इस बात का जिक्र किया, धीरे धीरे इतना फेमस हुआ यह कैंपेन की सचिन तेंदुलकर ने अपनी बेटी सारा  के साथ, फोगाट बहनों ने अपने पिता के साथ, पीवी सिंधु ,साइना नेहवाल, राष्ट्रपति प्रणव
मुखर्जी इत्यादि ने इस मुहिम का भरपूर समर्थन किया, तब राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने एक ऐप की शुरुआत की

hashtag #selfie with daughter  की, धीरे धीरे यह  एप बेटियों की शान, और पूरी तरह पितृसत्तात्मक व्यवस्था को चुनौती देता रहा, और आज  यह मुहिम देश से निकल कर विश्व स्तरीय हो गई है ।

Leave a comment

Your email address will not be published.