Numerology Ki Chuski

2 posts

Numerology Ki Chuski. एक और एक दो होता है लेकिन एक और एक ग्यारह भी होते हैं, रातों में नींद भी होती है उसके साथ-साथ सपने भी होते हैं,
अक्सर दो अलग-अलग समय में घटी कुछ ऐसी घटनाएं जो आगे चलकर कुछ रहस्य छोड़ जाते हैं, यह रहस्य ऐसे होते हैं, जो कहीं ना कहीं एक दूसरे से जुड़ जाते हैं।
संख्याओं का भी हमारे जीवन में बहुत बड़ा स्थान है। 1 से 100 तक की रटी-रटाई गिनती में न जाने कितने ऐसे मोड़ आ जाते हैं। जब यह संख्याएं भी दुनिया की तरह गोल गोल घूम घूम कर अपना एक दूसरे के साथ संपर्क स्थापित कर देती हैं। संख्याओं की उड़न तश्तरी Numerlogy कहलाती है। इस उड़न तश्तरी का पायलट जब संख्याओं की नगरी में घूम-घूमकर कुछ नया ढूंढ़ के लाता है। तो यह नया रंग ही Numerology की चुस्की कहलाता है।